वन आनुवंशिकी एवं प्रजनन विभाग

वन आनुवंशिकी और प्रजनन विभाग

वन आनुवंशिकी और प्रजनन विभाग द्वारा बांस और विभिन्न औषधीय पौधों के लिए सूक्ष्म और स्थूल प्रचार प्रोटोकॉल के विकास हेतु कार्य किया जा रहा है। विभाग द्वारा विगत वर्षों में तेल उपज वृक्षों Derris indica, Madhuca latifolia और Jatropha curcas प्रजाति की उत्पादकता बढाने हेतु भी कार्य किया जा रहा है. इसके अलावा बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल के बांस प्रजाति में मिट्टी के गुण के संबंध में परिवर्तनशीलता / उत्पादकता और विकास की गतिशीलता पर भी विभाग द्वारा अध्ययन किया जा रहा है।

प्रभाग का अनुसंधान अधिदेश:

  • वन आनुवंशिक संसाधनों का अन्वेषण और ex-citu संरक्षण।
  • जैव प्रौद्योगिकी तकनीक माध्यम से लुप्तप्राय प्रजातियों का संरक्षण।
  • आर्थिक महत्व के वन प्रजाति के आनुवंशिक परिवर्तनशीलता पर अध्ययन।
  • महत्वपूर्ण वन प्रजाति की उत्पादकता और गुणवत्ता को बढ़ाने के लिए आनुवांशिक सुधार।
  • वानिकी की बेहतर / अभिजात वर्ग पौध और उनके प्रतिरूप मूल्यांकन के बड़े पैमाने पर प्रसार हेतु तकनीकों का विकास।

वर्तमान में परिचालित शोध परियोजना:

  • Tree Borne Oil seeds (TBOs) in community lands for Improved Livelihoods of Vulnerable Groups of Jharkhand – PI- Dr. Animesh Sinha, Scientist-E, 5 yrs (2012-17)
  • Collection, conservation and evaluation of Melia dubia germplasm from North Bengal, Odisha Hills and other parts of India for identification and release of superior clones. – PI- Sh. Aditya Kumar Scientist-C, 5 yrs (2013-18)
  • Genetic evaluation and improvement of Flemingia semialata and Flemingia macrophylla used for lac cultivation in Jharkhand. – PI- Sh. Aditya Kumar Scientist-C, 3 yrs (2016-19)

विभागीय टीम:

डॉ अनिमेष सिन्हा, वैज्ञानिक-ई (प्रमुख)
श्री। आदित्य कुमार, वैज्ञानिक-सी
श्री। दीपक कुमार दास, R.O,, ग्रेड-मैं
श्री एम के चंचल r.o. II (जनरल)
श्री सुशीत बनर्जी, आर.ए. II (जनरल)
श्री महेश कुमार, टी.ए. , डी ‚
श्री अतनु साकार, टी.ए. ,सी‘

संपर्क :

प्रभागाध्यक्ष,
वन आनुवंशिकी और प्रजनन विभाग
वन उत्पादकता संस्थान, अरन्योदय,
NH 23, लाल्गुटावा,
रांची – ८३५३०३.
फोन: 0651-2526149